Page 5 of 5 FirstFirst ... 345
Results 41 to 48 of 48

Thread: Shayari ... Enjoy

  1. #41
    PolicyWala Member
    Join Date
    Jul 2009
    Location
    India
    Posts
    30

    Cool

    शहर की इस दौड में दौड के
    करना क्या है?
    अगर यही जीना हैं दोस्तों...
    तो फिर मरना क्या हैं?
    पहली बारिश में ट्रेन लेट
    होने की फ़िकर हैं......
    भूल गये भींगते हुए
    टहलना क्या हैं.......
    सीरियल के सारे
    किरदारो के हाल हैं
    मालुम......
    पर माँ का हाल पूछ्ने
    की फ़ुरसत कहाँ हैं!!!!!!
    अब रेत पर नंगे पैर टहलते
    क्यों नहीं........
    १०८ चैनल हैं पर दिल
    बहलते क्यों नहीं!!!!!!!
    इंटरनेट पे सारी दुनिया से
    तो टच में हैं.......
    लेकिन पडोस में कौन
    रहता हैं जानते तक नहीं!!!!
    मोबाईल, लैंडलाईन सब
    की भरमार हैं.........
    लेकिन ज़िगरी दोस्त तक
    पहुंचे ऐसे तार कहाँ हैं!!!!
    कब डूबते हुए सूरज
    को देखा था याद
    हैं??????
    कब जाना था वो शाम
    का गुजरना क्या हैं!!!!!!!
    तो दोस्तो इस शहर
    की दौड में दौड के
    करना क्या हैं??????
    अगर यही जीना हैं तो फिर
    मरना क्या हैं!!!!!!!!


  2. #42
    PW Stalwart Manish_Kumar's Avatar
    Join Date
    Apr 2009
    Location
    Patna
    Posts
    268

    Default

    Muft Ki Advice Hai......!!!!
    Na ishq karna mere yaar,
    Ye ladkiya bahut satati hai,
    Na karna in par aitabaar,
    Ye kharca bahut karati hai.
    Everyone has a scheme of getting rich.. Which never works.

  3. #43
    PW Stalwart Master's Avatar
    Join Date
    Feb 2009
    Location
    Mumbai
    Posts
    438

    Default

    Ek Bewafa Ki Yaad Me Humne
    Hatho Me JAM Utha Liya,
    Fir Lagaya Bread Pe Or Fatafat Kha Liya..
    Note: Sare AASHIQ Bewde Nahi Hote
    Kuch Bhuke B Hote h...

  4. #44
    PW Regular
    Join Date
    Aug 2009
    Location
    India
    Posts
    31

    Default

    Wo roz roz kehti hai ke mujhe apni tasveer mms karO
    .
    "AE DOST"

    Uss nadaan ko ye kaise batau k mere paas

    Nokia "1100" hai

  5. #45
    PolicyWala Fan
    Join Date
    Apr 2009
    Location
    Mangalore
    Posts
    45

    Default

    दोस्ती नाम नहीं सिर्फ़ दोस्तों के साथ रेहने का..
    बल्कि दोस्त ही जिन्दगी बन जाते हैं, दोस्ती में..

    जरुरत नहीं पडती, दोस्त की तस्वीर की.
    देखो जो आईना तो दोस्त नज़र आते हैं, दोस्ती में..

    येह तो बहाना है कि मिल नहीं पाये दोस्तों से आज..
    दिल पे हाथ रखते ही एहसास उनके हो जाते हैं, दोस्ती में..

    नाम की तो जरूरत हई नहीं पडती इस रिश्ते मे कभी..
    पूछे नाम अपना ओर, दोस्तॊं का बताते हैं, दोस्ती में..

    कौन केहता है कि दोस्त हो सकते हैं जुदा कभी..
    दूर रेह्कर भी दोस्त, बिल्कुल करीब नज़र आते हैं, दोस्ती में..

    सिर्फ़ भ्रम हे कि दोस्त होते ह अलग-अलग..
    दर्द हो इनको ओर, आंसू उनके आते हैं , दोस्ती में..

    माना इश्क है खुदा, प्यार करने वालों के लिये "अभी"
    पर हम तो अपना सिर झुकाते हैं, दोस्ती में..

    ओर एक ही दवा है गम की दुनिया में क्युकि..
    भूल के सारे गम, दोस्तों के साथ मुस्कुराते हैं, दोस्ती में

  6. #46
    Banned
    Join Date
    Jan 2013
    Location
    mumbai
    Posts
    5

    Default

    Logon Ne Kaha Ki Main Sharabi Hoon,
    Maine Kaha Unho Ne Ankhon Se Pilaiee Hai.
    Logon Ne Kaha Ki Main Ashiq Hoon,
    Maine Kaha Ashiqi Unho Ne Sikhaiee Hai.
    Logon Ne Kaha Rahul Tu Shayar Dewana Hai,
    Maine Kaha Unki Mohabbat Rang Laiee Hai.

  7. #47
    Banned
    Join Date
    Dec 2015
    Location
    Mumbai
    Posts
    8

    Default

    Bindas muskurao kya gam hai,
    Zindgi me tension kisko kam hai,
    Yaad karne wale to bahut hai aapko,
    Dil se ‘TANG’ karne wale to sirf HUM hai.

  8. #48
    NewBie
    Join Date
    Mar 2019
    Location
    Mumbai
    Posts
    4

    Default

    Quote Originally Posted by Deepali View Post
    Bindas muskurao kya gam hai,
    Zindgi me tension kisko kam hai,
    Yaad karne wale to bahut hai aapko,
    Dil se ‘TANG’ karne wale to sirf HUM hai.

    wow, this was a pretty one. Nice shayaris for me to post on facebook. Thanks, guys


Posting Permissions

  • You may not post new threads
  • You may not post replies
  • You may not post attachments
  • You may not edit your posts
  •